स्टेट बैंक ऑफ मैसूर बैलेंस इन्क्वारी चेक नंबर – Updated 2021

स्टेट बैंक ऑफ मैसूर बैलेंस इन्क्वारी चेक नंबर – Updated 2021: 1930 में स्टेट बैंक ऑफ मैसूर के महाराजा कृष्णराजा वाडियार IV के द्वारा संरक्षण में उत्कृष्ट इंजीनियर स्टेटसमैन के नेतृत्व में बैंकिंग समिति के संरक्षण में द बैंक ऑफ मेजर लिमिटेड के रूप में खोजा गया था। और स्टेट बैंक ऑफ मैसूर भारत में सार्वजनिक क्षेत्र का ऋण दाता बैंक है जिसका मुख्यालय बेंगलुरु में था। आज के इस लेख में हम आपको स्टेट बैंक ऑफ मैसूर बैलेंस चेक टोल फ्री नंबर के बारे में जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं इसीलिए लेट हो अंत तक पढ़े।

स्टेट बैंक ऑफ मैसूर बैलेंस इन्क्वारी चेक नंबर – Updated 2021

उपयोगकर्ताओं का खाता स्टेट बैंक ऑफ मैसूर में है वह विभिन्न तरीकों से बैलेंस की जानकारी को आसानी से चेक कर सकते हैं। बैंक द्वारा उपयोगकर्ताओं को मिस्ड कॉल सेवा, s.m.s. सेवा, एटीएम सेवा और नेट बैंकिंग द्वारा शेष राशि के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए अनुमति प्रदान की गई है जिनका उल्लेख हमने नीचे निम्नलिखित प्रकार से किया है।

सेवाएं नंबर
मिस्ड कॉल नंबर 09223766666
sms सेवा (for registration) “REGSBM<space><account number>” to 09223488888

मिस कॉल द्वारा शेष राशि के बारे में जानकारी कैसे हासिल करें

जिन उपयोगकर्ताओं को मिस्ड कॉल सेवा द्वारा शेष राशि के बारे में जानकारी हासिल करनी है, वह बैंक द्वारा प्रदान किए गए टोल फ्री नंबर का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए उपयोगकर्ताओं को अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर से बैंक द्वारा प्रदान किए गए टोल फ्री नंबर 09223766666 पर मिस कॉल देना होगा। मिस कॉल देने के पश्चात कॉल स्वचालित रूप से कट जाएगी।

कॉल कटने के पश्चात s.m.s. के माध्यम से बैंक द्वारा लिखित रूप में शेष राशि के बारे में जानकारी हासिल होगी। याद रहे इस सुविधा का उपयोग करने के लिए उपयोगकर्ता का नंबर बैंक में पंजीकृत होना अनिवार्य है। अन्यथा इस सुविधा का उपयोग उपयोग करता नहीं कर पाएंगे।

एटीएम द्वारा शेष राशि के बारे में जानकारी हासिल कैसे करें

जिन उपयोगकर्ताओं को एटीएम के माध्यम से शेष राशि के बारे में जानना है, वह अपने निकटतम एटीएम में जाएं और डेबिट कार्ड स्वाइप करें। डेबिट कार्ड स्वाइप करने के पश्चात आपको 4 डिजिट का एटीएम पिन दर्ज करना होगा। एटीएम पिन दर्ज करने के पश्चात आपको बैलेंस इंक्वायरी ऑप्शन का चयन करना होगा जो कि स्क्रीन पर दिखाई दे रहा होगा। उसके बाद आपको शेष राशि के बारे में जानकारी स्क्रीन पर प्रदर्शित होती हुई नजर आएगी। आप चाहे तो इसकी रसीद भी प्रिंट कर सकते हैं। उसी के साथ साथ आप गैर स्टेट बैंक ऑफ मैसूर एटीएम का उपयोग भी कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग द्वारा शेष राशि कैसे जाने

उपयोगकर्ताओं को इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा द्वारा शेष राशि के बारे में जानकारी हासिल करने की अनुमति बैंक ऑफ मैसूर प्रदान करता है। इस सुविधा का उपयोग करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन लैपटॉप या फिर अच्छे स्मार्टफोन की आवश्यकता होगी। सर्वप्रथम ऑफिशल वेबसाइट पर जाने के बाद अपना आईडी पासवर्ड डालकर लॉग इन करें।

लोगिन करने के बाद शेष राशि के बारे में जानकारी पाने के साथ-साथ सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे। जो उपयोगकर्ताओं का नेट बैंकिंग के लिए पंजीकरण नहीं है ऑनलाइन कर सकते हैं। इसके लिए आपको रजिस्टर बटन पर क्लिक करना होगा और जानकारी दर्ज करने के बाद बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट में लॉगिन कर ले। उसके बाद शेष राशि के बारे में जान सकते हैं यह सुविधा 24 घंटे उपलब्ध है।

पासबुक अपडेट कराकर शेष राशि कैसे जाने

पासबुक अपडेट कराकर शेष राशि के बारे में जानकारी हासिल करना एक पारंपरिक प्रक्रिया है जिसका इस्तेमाल हर कोई कर सकता है। यह सुविधा खासतौर पर उन लोगों के लिए है जो इंटरनेट बैंकिंग सेवा मिस कॉल सेवा का उपयोग नहीं कर सकते। पासबुक अपडेट कराने के लिए उपयोगकर्ताओं को अपने नजदीकी बैंक शाखा में जाकर पासबुक अपडेट कराने के लिए अधिकारी से अनुरोध करना होगा। जिसके बाद लिखित रूप से सभी जानकारी पासबुक में दिखाई देगी।

सुविधा का उपयोग करने के लिए पंजीकरण कैसे करें

सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए बैंक में जाकर अधिकारी से पंजीकरण के लिए अनुरोध कर सकते हैं। या फिर अपने मोबाइल पर एसएमएस में जाएं उसके बाद REGSBM लिखे। फिर स्पेस दबाएं और अपना अकाउंट नंबर दर्ज करें। अब बैंक द्वारा प्रदान किए गए टोल फ्री नंबर 09223488888 पर भेज दें। आपको एसएमएस के माध्यम से सफल पंजीकरण होने की जानकारी प्राप्त होगी, जिसके बाद एसएमएस सेवा, मिस्ड कॉल सेवा का लाभ उठा पाएंगे।

आपको मेरे द्वारा बताई गई आज की यह जानकारी “स्टेट बैंक ऑफ मैसूर बैलेंस इन्क्वारी चेक नंबर – Updated 2021” कैसी लगी नीचे कमेंट में जरूर बताएं। सवाल हो या सुझाव उन्हें पूछना ना भूले, आपका हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment